एडिलेड टेस्ट से पहले इन दो भारतीय खिलाड़ियों में छिड़ी जंग

एडिलेड टेस्ट से पहले इन दो भारतीय खिलाड़ियों में छिड़ी जंग

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पहले टेस्ट मैच गुरुवार से शुरू होने वाला है, लेकिन इस अहम मुकाबले से पहले टीम इंडिया के दो खिलाड़ियों के बीच जंग छिड़ गई है। खास बात ये है कि ये जंग भी भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआइ) की वजह से छिड़ी है। इस जंग के बीच भारतीय कप्तान विराट कोहली और टीम मैनेजमेंट बुरे फंस गए हैं, क्योंकि अब उन्हें एक अहम फैसला जो लेना है। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये कैसे हो गया, तो चलिए आपको बताते हैं-

इन दो खिलाड़ियों के बीच छिड़ी जंग

बीसीसीआइ ने बुधवार की सुबह एडिलेड टेस्ट के लिए भारतीय टीम के 12 खिलाड़ियों के नाम का एलान किया।  पहले टेस्ट के लिए इन 12 खिलाड़ियों को चुना गया है- विराट कोहली, अजिंक्य रहाणे, लोकेश राहुल, मुरली विजय, चेतेश्वर पुजारा, रोहित शर्मा, हनुमा बिहारी, रिषभ पंत, आर अश्विन, मोहम्मद शमी, इशांत शर्मा और जसप्रीत बुमराह।

जाहिर सी बात है कि इन 12 में से 11 खिलाड़ी ही मैदान पर उतरेंगे। अब सवाल ये है कि इन 12 में से कौन-सा एक खिलाड़ी होगा जो एडिलेड टेस्ट से बाहर होगा? यही जवाब सभी ढूंढ रहे हैं। इन 12 खिलाड़ियों को देखकर ऐसा लगता है कि जो भी खिलाड़ी बाहर होगा वो एक बल्लेबाज़ ही होगा जो कि नंबर-6 पर बल्लेबाज़ी करता होगा। ऐसे में जिन दो बल्लेबाज़ों के नाम सामने आते हैं वो हैं रोहित शर्मा और हनुमा विहारी। अब एडिलेड टेस्ट में जगह बनाने के लिए इन दोनों के बीच एक तरह की जंग छिड़ गई है।

कोहली और टीम मैनेजमेंट को लेना होगा फैसला

इन दोनों खिलाड़ियों के बीच लगी रेस में किस खिलाड़ी को प्लेइंग इलेवन में मौका देना है इसका फैसला कप्तान कोहली और टीम मैनेजमेंट को लेना होगा। कोहली के साथ-साथ टीम मैनेजमेंट को इस बात का ध्यान रखना होगा कि उनका ये फैसला मैच का पासा पलट सकता है, क्योंकि रोहित शर्मा को प्लेइंग इलेवन में मौका देने की बात कई पूर्व दिग्गज़ खिलाड़ी कर चुके हैं। वहीं हनुमा विहारी का प्रदर्शन भी इस बात को कह रहा है कि उन्हें इस टेस्ट मैच में मौका मिलना चाहिए। इसी वजह से कोहली और टीम मैनेजमेंट असमंजस की स्थिति में हैं। कोहली एंड कंपनी का ये फैसला इसलिए भी अहम होगा क्योंकि ये सीरीज़ का पहला मैच है और टीम इंडिया इस मैच को जीतकर चार टेस्ट की सीरीज़ में 1-0 की अहम बढ़त बनाना चाहेगी।  

विहारी है रेस में आगे 

इन दोनों बल्लेबाज़ों को देखा जाए तो विहारी इस रेस में थोड़े आगे नज़र आते हैं। क्योंकि विहारी ने अपना टेस्ट डेब्यू इंग्लैंड में किया था और उन्होंने पहली ही पारी में शानदार अर्धशतक जड़ा था। विहारी ने उस मैच में 56 रन की पारी खेली थी। विहारी नेे क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया एकादश के खिलाफ खेले गए अभ्यास मैच में भी अर्धशतक जमाते हुए 53 रन बनाए थे। वहीं रोहित ने इस मैच में 40 रन की पारी खेली थी। रोहित का हाल ही में विदेशों में रिकॉर्ड कुछ खास नहीं रहा है। उन्होंने आखिरी बार टेस्ट क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका में खेला था और पांचवें नंबर पर उतरकर चार पारियों में 78 रन ही बना सके थे। वैसे विहारी स्पिन गेंदबाज़ी भी कर सकते हैं और इंग्लैंड में खेले एकमात्र टेस्ट की दूसरी पारी में उन्होंने तीन विकेट भी चटकाए थे।