IND vs NZ 4th ODI: ट्रेंट बोल्ट ने खोला राज़, क्यों हो जाते हैं वह इतने खतरनाक, अकरम व यूनुस को पीछे छोड़ा

IND vs NZ 4th ODI: ट्रेंट बोल्ट ने खोला राज़, क्यों हो जाते हैं वह इतने खतरनाक, अकरम व यूनुस को पीछे छोड़ा

अपनी शानदार गेंदबाजी से चौथे वनडे (#INDvNZ #INDvsNZ #4thODI) मैच में भारत को करारी मात (मैच रिपोर्ट)देने में अहम भूमिका निभाने वाले न्यूजीलैंड के तेज गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट (Trent Boult is adujded man of the match) ने खुद अपनी खतरनाक गेंदबाजी के पीछे की वजह का खुलासा किया है. और बोल्ट का यह खुलासा वेलिंगटन में आखिरी वनडे से पहले भारतीय बल्लेबाजों के लिए एक तरह से चेतावनी भी है. और बोल्ट के इस बयान के बाद भारतीय बल्लेबाज इस पहलू पर काम कर सकते हैं. बोल्ट ने चौथे मैच में मिले हालात को जमकर भुनाते हुए 21 रन देकर पांच विकेट चटकाए. वहीं, इस प्रदर्शन के साथ ही ट्रेंट बोल्ट ने अपनी जमीं या किसी एक देश में सबसे तेज सौ विकेट चटकाने का रिकॉर्ड अपनी झोली में जमा कर लिया. इस मामले में बोल्ट ने दिग्गज वकार यूनुस और वसीम अकरम को भी पीछे छोड़ दिया. 

बोल्ट ने मैच के बाद कहा, 'यह पूरी तरह से परिस्थितियों वाली बात है. गेंद को हवा में लहराते देखना अच्छा था. मुझे लगता है कि जब मुझे स्विंग मिलता है तो मैं निश्चित रूप से एक अलग गेंदबाज होता हूं. मैंने आज इसका (स्विंग) सबसे ज्यादा फायदा उठाया. 

बोल्ट के बेहतरीन स्पेल के चलते भारतीय टीम 92 रन पर ढेर हो गई और उसे आठ विकेट से करारी हार झेलनी पड़ी. उन्होंने कहा, 'यह उन चीजों में से एक है. आपको शीर्ष क्रम के कुछ विकेट हासिल होते हैं. जब उछाल मिलती है तब 10 ओवर फेंकना एक बहुत ही अनोखी बात है. लेकिन उन सब चीजों में यह अच्छा लगा कि गेंद बाद में भी स्विंग हो रही थी'. ट्रेंट बोल्ट को ही चौथे मैच में उनके प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया. 29 साल का यह गेंदबाज अभी तक करियर में 75 मैचों में 138 विकेट चटका चुका है. बोल्ट ने पांचवीं बार करियर में पांच विकेट चटकाने का कारनामा किया. वहीं, अपने देश या किसी एक देश की जमीं पर सबसे कम मैचों में सौ विकेट चटकाने का रिकॉर्ड भी बोल्ट ने अपने नाम कर लिया.