आयरलैंड के खिलाफ तूफानी पारी खेलकर लोकेश राहुल ने इंग्लैंड को किया आगाह

आयरलैंड के खिलाफ तूफानी पारी खेलकर लोकेश राहुल ने इंग्लैंड को किया आगाह

भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर बल्लेबाज लोकेश राहुल ने आयरलैंड के खिलाफ दूसरे मैच में अपनी बल्लेबाजी कर दम दिखाते हुए तूफानी 70 रन की पारी खेली। आइपीएल में अपना दम दिखा चुके लोकेश ने अपना शानदार फॉर्म यहां भी जारी रखा और बेहतरीन बल्लेबाजी की। उन्हें टीम में शिखर धवन की जगह शामिल किया गया था जिन्होंने पिछले मैच में अर्धशतकीय पारी खेली थी लेकिन राहुल ने धवन की कमी महसूस नहीं होने दी और कमाल की पारी खेल दी। 

इंग्लैंड को किया आगाह

लोकेश राहुल ने 36 गेंदों पर 70 रन की ताबड़तोड़ पारी खेलकर इंग्लिश टीम को आगाह कर दिया है। उन्होंने अपनी पारी में 3 चौके और 6 छक्के लगाए। उनका स्ट्राइकर रेट 194.44 का रहा। लोकेश ने दूसरे विकेट के लिए रैना के साथ मिलकर 106 रन की साझेदारी करते हुए टीम को मजबूती प्रदान की। 

टीम मैनजमेंट व कप्तान ने इस मैच में इनफॉर्म धवन को बिठाकर लोकेश को मौका दिया। लोकेश राहुल ने इस मौके को जबजरदस्त फायदा उठाया और इसे नहीं गंवाया। उन्होंने धवन की कमी महसूस नहीं होने दी और 70 रन बनाए। उन्हें इस मैच में मौका देकर शायद उनके फॉर्म को भी आजमाया गया था कि क्या वो अपने रंग में हैं या नहीं लेकिन राहुल ने सबके विश्वास को कायम रखा और दिखा दिया कि इ्ंग्लैंड के खिलाफ बड़ी सीरीज के लिए वो पूरी तरह से तैयार हैं और टीम के लिए बल्लेबाजी की जिम्मेदारी भी निभाने को तैयार हैं। 

इस वक्त टीम इंडिया में तीन स्पेशलिस्ट ओपनर बल्लेबाज मौजूद हैं। लोकेश राहुल, शिखर धवन व रोहित शर्मा। धवन व रोहित ने आयरलैंड के खिलाफ पहले मैच में कमाल की पारी खेली थी तो राहुल ने आयरलैंड के खिलाफ दूसरे मैच में मिले मौके को जाया नहीं जाने दिया और 70 रन की पारी खेल दी। इंग्लैंड के खिलाफ कप्तान विराट को लिए ये सरदर्द हो सकता है कि इनमें से किसे ओपनिंग करने भेजा जाए। हालांकि राहुल को भारत की तरफ से ओपनिंग के अलावा चौथे या पांचवें नंबर पर आजमाया जा चुका है लेकिन वो पूरी तरह से फ्लॉप रहे थे। वहीं इस मैच में कप्तान विराट लोकेश राहुल के साथ खुद ओपनिंग करने आए और रोहित को चौथे नंबर पर भेजा गया लेकिन वो 0 पर आउट हो गए। इस आइपीएल में भी राहुल ने कमाल की बल्लेबाजी की थी और वो कमाल की फॉर्म में हैं। ऐसे में विराट उन्हें टीम से बाहर रखने का रिस्क नहीं ले सकते। हालांकि उन्हें किस जगह बल्लेबाजी करने भेजा जाएगा ये बड़ा सवाल है।