धौनी को लेकर खड़े हुए ये सवाल.....

धौनी को लेकर खड़े हुए ये सवाल.....

महेंद्र सिंह धौनी के संन्यास की खबरों पर भले ही विराम लग गया हो, लेकिन इस दिग्गज क्रिकेटर की खराब फॉर्म के चलते अब वो अपने साथ खेले खिलाड़ियों के निशाने पर आ गए हैं। सौरव गांगुली के साथ-साथ गौतम गंभीर ने भी उनके धीमे प्रदर्शन पर सवाल उठाए हैं।  

गांगुली ने उठाए धौनी पर सवाल

धौनी ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज़ के आखिरी दोनों मैचों में काफी धीमी बल्लेबाज़ी की थी। जैसे दमदार खेल की उम्मीद उनसे की जाती है वो उस पर खरे नहीं उतर सके। पहले लॉर्ड्स और फिर लीड्स में खेले गई धौनी की इन धीमी पारियों के बाद अब भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा है कि धौनी को जल्द ही अपनी बल्लेबाज़ी में सुधार की जरुरत है। इसके साथ ही गांगुली उनके खेलने के क्रम को लेकर भी सवाल उठाए हैं।

दादा के नाम से मशहूर सौरव का कहना है की अगर धौनी टीम में हैं तो वह ऐसी पोजिशन पर खेलने आते हैं जहां से उन्हें लगातार बॉल को हिट करने की जरूरत है। वह 24-25 ओवर के आसपास खेलने आते हैं तो पारी को खड़ी करने के लिए उन्हें लगातार रन बनाने की जरूरत है जिसमें वह नाकाम हो रहे हैं। वह ऐसा कर तो सकते हैं लेकिन पिछले एक साल से वह ऐसा करने में नाकाम हो रहे हैं’।

गंभीर ने भी उठाए सवाल

सौरव गांगुली के साथ ही साथ गौतम गंभीर ने भी धौनी के प्रदर्शन पर सवाल खड़े किए हैं। गंभीर ने कहा कि धौनी की धीमी बल्लेबाज़ी की वजह से बाकी खिलाड़ियों पर दबाव बढ़ रहा है। गौतम गंभीर ने कहा है, 'धौनी काफी डॉट बॉल खेल रहे हैं जिसकी वजह से दूसरे बल्लेबाज़ों पर अधिक दबाव पड़ रहा है'। गंभीर ने आगे कहा, 'मैंने पिछले कई वर्षों से धौनी को इस तरह से बल्लेबाज़ी करते हुए नहीं देखा है इसलिए उन्हें खुलकर खेलने की ज़रूरत है'।

आपको बता दें कि धौनी ने इंग्लैंड के खिलाफ दूसरे वनडे में 59 गेदों में 37 रन की पारी खेली थी जिसके बाद ही वह आलोचनाओं के घेरे में आ गए। धौनी ने तेज़-तर्रार बल्लेबाज़ी नहीं की थी और इसी वजह से दर्शकों ने निराश होकर उन्हें मैदान पर ही हूट करना शुरू कर दिया था। धौनी की उस पारी के बाद पूर्व कप्तान सुनील गावस्कर ने तो धौनी की इस पारी की तुलना खुद की 1975 के वर्ल्ड कप में खेली गई 36 रन की धीमी पारी से कर दी थी।