पहली बार रद्द हुआ मराठा में ‘डीडीएलजे’ का शो

पहली बार रद्द हुआ मराठा में ‘डीडीएलजे’ का शो

शाहरुख खान की फिल्म 'दिलवाले दुल्हनिया ले जाएंगे' की स्क्रीनिंग के लिए मशहूर मुंबई के सिनेमाघर मराठा मंदिर में रोक दिया गया, ये पिछले 22 वर्षों में पहली बार हुआ है। रिपोर्ट अनुसार  मुंबई का मराठा मंदिर थिएटर में आज भी शाहरुख खान और काजोल की ब्‍लॉकबस्‍टर फिल्‍म 'दिलवाले दुल्‍हनिया ले जाएंगे' इस सिनेमाघर में चल रही है और आज भी लोग इस फिल्‍म को देखने वहां जाते हैं। लेकिन पहली बार वहा लोग डीडीएलजे देखने नहीं, बल्कि श्रद्धा कपूर की आने वाली फिल्म 'हसीना' के ट्रेलर लॉन्च पर पहुंचे थे। 

इस मौके पर हसीना का किरदार निभा रहीं श्रद्धा और हसीना के भाई दाउद इब्राहिम का किरदार निभा रहे श्रद्धा के सगे भाई सिद्धांत कपूर के अलावा फिल्म के निर्देशक अपूर्व लखिया भी स्क्रीनिंग के वक्त वह मौजूद थे। और ये भी पता चला है की 22 वर्षों में यह पहली बार है कि थिएटर में किसी फिल्म के ट्रेलर की स्क्रीनिंग हुई।

इस बारे में जब श्रद्धा कपूर से पूछा गया तो उन्होंने कहा कि ' उन्हें इस बारे में कुछ भी नहीं पता और वह इस बात के लिए खेद जताती हैं, यहां पर आए हुए लोग को कोई परेशानी उठानी पड़ी, किसी को अगर कोई परेशानी हुई है तो मैं माफी मांगती हूं क्योंकि हम यहां किसी को भी परेशान करने नहीं आए हैं. मुझे नहीं लगता इस बात से कोई परेशान हुआ है।' 

इस मौके पर निर्देशक अपूर्व लखिया ने बताया कि अंडरवर्ल्ड डॉन दाउद इब्राहिम की बहन हसीना पारकर की जिंदगी पर फिल्म बनाना उनके लिए कतई आसान नहीं था। उन्होंने कहा, 'सबसे पहले तो खुद हसीना पारकर को उनकी जिंदगी पर फिल्म बनाने के लिए राजी करना मुश्किल था। मैं जब पहली बार उनसे मिला, तो उन्होंने अपने बचपन की कुछ ऐसी घटनाओं का जिक्र किया, जिन्हें जानकर मैं बहुत ज्यादा उत्सुक हो गया। जब मैंने उनसे कहा कि मैं उन पर फिल्म बनाना चाहता हूं, तो पहले वह थोड़ी असहज सी हो गईं। उन्होंने साफ कह दिया कि वह अपनी निजी जिंदगी को सार्वजनिक नहीं करना चाहती हैं। तभी फिल्म के को-प्रोडूसर ने उन्हें किसी तरह राजी किया, तब जाकर हम आपने सामने उनकी ज़िन्दगी पर निर्थारित फिल्म बना पाए।  

खबर अनुसार श्रद्धा की फिल्म हसीना 1 8 अगस्त को रिलीज़ होगी।