शराब पीने का कोई सुरक्षित स्तर नहीं है : अध्ययन

शराब पीने का कोई सुरक्षित स्तर नहीं है : अध्ययन

मदिरापान का कोई सुरक्षित स्तर नहीं होता है..जी हां वर्ष 2016 में दुनियाभर में शराब पीने से करीब 30 लाख लोगों की मौत होने का दावा करने वाले एक नए अध्ययन में यह पाया गया है. पत्रिका ‘लान्सेट’ में प्रकाशित अध्ययन में 195 देशों और क्षेत्रों में शराब के उपयोग और उससे स्वास्थ्य पर पड़ने वाले असर का आकलन किया गया.

अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ वाशिंगटन से एम्मेनुएला गाकीदोऊ ने कहा, ‘‘शराब से स्वास्थ्य को बड़ा खतरा है.’’ गाकीदोऊ ने कहा, ‘‘हमारे निष्कर्ष हाल ही में हुए अन्य अध्ययनों के अनुरूप हैं, जिनमें मदिरापान और असामयिक मृत्यु, कैंसर तथा हृदय रोगों में स्पष्ट एवं ठोस संबंध पाए गए हैं.’’

 

कई वर्षों से विशेषज्ञ कहते आए हैं कि थोड़ा-बहुत (प्रतिदिन महिलाओं के लिए एक पेग और पुरुषों के लिए दो पेग) शराब पीना संभवत: समग्र स्वास्थ्य के लिए बुरा नहीं होता. गाकीदोऊ ने कहा, ‘‘बिल्कुल शराब ना पीने से समग्र स्वास्थ्य पर उत्पन्न खतरा कम हो सकता है.’’

अध्ययन में पाया गया कि वर्ष 2016 में दुनियाभर में करीब 30 लाख लोगों की जान शराब पीने से हुई. इनमें से 12 प्रतिशत पुरुष थे जो 15 से 49 वर्ष की आयु के थे. बहरहाल, शोधकर्ता सामान्य तौर पर शराब पीने के कारण हुईं मौत के सभी मामलों और उससे स्वास्थ्य पर पड़ने वाले परिणामों के अनुरूप उक्त निष्कर्षों पर पहुंचे हैं.