हफ्ते में एक बार कटहल की सब्जी खाने के 9 फायदे जानकर चौंक जाएंगे आप

हफ्ते में एक बार कटहल की सब्जी खाने के 9 फायदे जानकर चौंक जाएंगे आप

शायद ही कोई हो जिसे कटहल की मसालेदार सब्जी पसंद न हो. कुछ लोग कटहल को फल मानते हैं तो कुछ इसे सब्जी मानते हैं. कुछ लोग तो इसे नॉनवेज का ऑप्शन भी मानते हैं. कई घरों में कटहल की सब्जी के अलावा इसका अचार, पकौड़े और कोफ्ता बनाकर भी खाया जाता है. कुछ लोग तो पके हुए कटहल को भी बड़े चाव से खाते हैं. औषधीय गुणों से भरपूर कटहल में कई पौष्टिक तत्‍व पाए जाते हैं. इसमें विटामिन A, C, थाइमिन, पोटेशियम, कैल्‍शियम, राइबोफ्लेविन, आयरन, नियासिन और जिंक भरपूर मात्रा में पाया जाता है. यह फाइबर का अच्छा स्रोत है. इसलिए यह कई तरह से शरीर के लिए फायदेमंद रहता है. आगे पढ़िए कटहल आपके लिए किस तरह से फायदेमंद रहता है.

आंखों की रोशनी बढ़ाए
अगर आपको भी पका हुआ कटहल खाना पसंद है तो इसके पल्प को अच्छी तरह से मैश करके पानी में उबालकर पी लें. ऐसा रोज करने से आपके शरीर में ताजगी बनी रहती है. कटहल में विटामिन ए भी पाया जाता है जिससे आंखों की रोशनी बढ़ती है और त्वचा में निखार आता है.

चेहरे पर रंगत लाए
कटहल के बीजों को सुखा लें. अब इनका चूर्ण बनाकर उसमें थोड़ा शहद मिला लें. शहर मिलाने के बाद बने लेप को अपने चेहरे पर 10-15 मिनट के लिए लगा लें. ऐसा करने के बाद चेहरे को गुनगुने पानी और फेशवाश से साफ कर लें. ऐसा करने से चेहरे के दाग-धब्बे साफ हो जाते हैं. अगर आपका चेहरा रुखा और बेजान है तो आपके लिए कटहल का रस चेहरे पर लगाना फायदेमंद रहेगा. कटहल के रस को लगाकर चेहरे की मसाज करें, कुछ ही दिन में फायदा दिखाई देगा.

दिल को रखे सेहतमंद
कटहल में कैलोरी नहीं होती है, ऐसे में यह हार्ट से जुड़ी कई बीमारियों में भी फायेमंद होता है. इसके अलावा इसमें पोटेशियम भी पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, इसलिए भी इसका सेवन दिल की समस्‍या को दूर करता है. कटहल का सेवन हाई ब्लड प्रेशर से भी राहत दिलाता है.

जोड़ों के दर्द से छुटकारा दे
कटहल के छिलकों से निकलने वाले दूध को अगर सूजन, घाव और कटे-फटे अंगों पर लगाया जाए तो बहुत आराम मिलता है. गठिया की समस्या से ग्रस्त रोगियों के जोड़ों पर कटहल के पत्तों से निकलने वाले दूध को लगाया जाए तो इससे राहत मिलती है.

एनीमिया से बचाव
कटहल की सब्जी या इससे बना अचार आयरन का अच्छा सोर्स है. ऐसे में इसके सेवन से एनीमिया से बचाव होता है. साथ ही इसके सेवन से ब्लड सर्कुलेशन भी नॉर्मल रहता है.

हड्डियों को मजबूती दे
कटहल में मैग्नीशियम भी पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है. जिसकी वजह से हड्डियां भी स्वस्थ और मजबूत रहती हैं. अगर आपके घर में भी किसी को हड्डियों से जुड़ी समस्या है तो हर हफ्ते कटहल का सेवन कराएं. इसमें विटामिन C और A भी पाया जाता है. यही वजह है कि शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को भी यह बढ़ाता है.

अस्थमा में गुणकारी
अस्थमा के रोगियों के लिए यह रामबाण का काम करता है. कच्चे कटहल को पानी में उबालकर छान लें. जब ये पानी ठंडा हो जाए तो इसे पी लें. नियमित रूप से ऐसा करने से अस्थमा की समस्या में बहुत फायदा मिलता है.

पाचन क्रिया को दुरुस्त करे
कटहल का सेवन करने वालों को अल्सर और पाचन से जुड़ी समस्याएं नहीं होतीं. इसमें भरपूर रेशे होते हैं, जो कब्ज की समस्या से दूर रखते हैं. कटहल की पत्तियों से बना चूरन पेट के रोगियों के लिए बहुत गुणकारी होता है. अल्सर के इलाज के लिए इसके पेड़ की पत्तियों को धोकर सुखा लें, सूखने पर इसका चूरन तैयार करें. अल्सर से ग्रस्त रोगी को इस चूरन को खिलाएं. जल्दी आराम मिलेगा.

झुर्रियों को गायब करे
अगर आप भी चेहरे पर असमय झुर्रियों से परेशान हैं तो कटहल को सुखाकर इसका चूरण बना लें. अब इसे कच्चा दूध मिलाकर चेहरे पर लगातार कुछ दिनों तक लगाए. ऐसा करने से आपको जल्द ही झुर्रियों की समस्या में आराम मिलने लगेगा.