पीएम मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस नहीं चाहती, अयोध्या मामले का हल निकले’

पीएम मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस नहीं चाहती, अयोध्या मामले का हल निकले’

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने शनिवार को कहा कि कांग्रेस नहीं चाहती है कि अयोध्या मामले का हल निकले, इसलिये वह अपने वकीलों के माध्यम से न्याय प्रक्रिया में बाधा डाल रही है. उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं से कांग्रेस के रवैये को जनता के बीच रखने को कहा.

 

बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक के समापन सत्र को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा, ‘कांग्रेस नहीं चाहती कि अयोध्या मामले का हल निकले .’ उन्होंने कहा कि अयोध्या विषय में कांग्रेस अपने वकीलों के माध्यम से न्याय प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने की कोशिश कर रही है . कांग्रेस नहीं चाहती की अयोध्या विषय का हल निकले. कांग्रेस का ये रवैया किसी को भूलना नहीं चाहिए .

'कांग्रेस के इस रवैये को किसी को नहीं भूलना चाहिए' 
प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस ने मुख्य न्यायाधीश पर महाभियोग की तैयारी भी कर रही थी . वह अपने वकीलों के जरिये रोड़ा अटका रही है.  उन्होंने बीजेपी कार्यकर्ताओं से कहा कि कांग्रेस के इस रवैये को किसी को नहीं भूलना चाहिए और किसी को भूलने देना भी नहीं चाहिए . इसे बार बार याद कराया जाना चाहिए .

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि हम ओबीसी कमीशन को संवैधानिक दर्जा देने का प्रस्ताव लाए, कांग्रेस ने विरोध किया. हम तीन तलाक खत्म करने के लिए कानून लाए, कांग्रेस ने विरोध किया. हम नागरिकता संशोधन विधेयक लाए, कांग्रेस फिर विरोध कर रही है और कांग्रेस नहीं चाहती कि अयोध्या मामले का हल निकले . 

उल्लेखनीय है कि 2019 के चुनाव में अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण एक प्रमुख मुद्दा है. इस मामले पर उच्चतम न्यायालय में सुनवाई चल रही है. आएसएस समेत हिन्दूवादी संगठन राम मंदिर के निर्माण के लिये कानून बनाने की मांग कर रहे हैं . बीजेपी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक में जब भी राम मंदिर का विषय आया, वहां उपस्थित पार्टी कार्यकर्ताओं के जोरदार उद्घोष ने इस मुद्दे के महत्व को रेखांकित किया .