मोदी को ‘अनपढ़-गंवार’ कहने वाले अपने बयान पर अड़े कांग्रेस नेता संजय निरूपम

मोदी को ‘अनपढ़-गंवार’ कहने वाले अपने बयान पर अड़े कांग्रेस नेता संजय निरूपम

कांग्रेस की मुंबई इकाई के प्रमुख संजय निरूपम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को लेकर बुधवार को एक विवादित बयान दिया. हालांकि, वह अपने बयान को विवादित और गलत मानने से इनकार कर रहे हैं. उनका कहना है कि उन्होंने बुधवार को पीएम मोदी को लेकर जो टिप्पणी की थी, उसमें कुछ भी गलत नहीं हैं और वह अपने बयान पर अब भी कायम हैं. उन्होंने कहा कि यह यह लोकतंत्र है, और लोकतंत्र में प्रधानमंत्री भगवान नहीं होते हैं. लोग उनके बारे में डेकोरम का ध्यान रखकर ही बात करते हैं. मैंने जिन शब्दों का इस्तेमाल किया, वे अभद्र नहीं थे.'

दरअसल, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शुरुआती जीवन को दर्शाने वाली फिल्म के महाराष्ट्र में जिला परिषद के स्कूलों में दिखाए जाने पर कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने अपने बयान में पीएम मोदी को निरक्षर करार दे दिया था. कांग्रेस नेता निरुपम ने कहा था, ‘जबरन फिल्म दिखाने का फैसला गलत है. बच्चों को राजनीति से दूर रखना चाहिए. मोदी जैसे अशिक्षित और निरक्षर व्यक्ति पर बनी फिल्म देखकर बच्चे क्या सीखेंगे?’ निरुपम ने कहा, ‘बच्चों और लोगों को तो यह भी नहीं पता कि प्रधानमंत्री के पास कितनी डिग्रियां हैं.’ 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के शुरुआती जीवन को दर्शाने वाली फिल्म के महाराष्ट्र में जिला परिषद के स्कूलों में दिखाए जाने पर कांग्रेस नेता संजय निरूपम ने अपने बयान 'जो बच्चे स्कूल, कॉलेज में पढ़ रहे हैं, मोदी जैसे अनपढ़-गंवार के बारे में जानकर उनको क्या मिलेगा..' पर कहा कि, 'यह लोकतंत्र है, और लोकतंत्र में प्रधानमंत्री भगवान नहीं होते हैं. लोग उनके बारे में डेकोरम का ध्यान रखकर ही बात करते हैं. मैंने जिन शब्दों का इस्तेमाल किया, वे अभद्र नहीं थे.'