बिहार कांग्रेस में बड़ी फेरबदल, शक्ति सिंह गोहिल प्रदेश प्रभारी के पद पर नियुक्त

बिहार कांग्रेस में बड़ी फेरबदल, शक्ति सिंह गोहिल प्रदेश प्रभारी के पद पर नियुक्त

बिहार कांग्रेस में बड़ी फेरबदल की गई है। कांग्रेस ने प्रदेश प्रभारी के पद से सीपी जोशी को हटा दिया है और उनकी जगह प्रदेश प्रभारी का पद गुजरात कांग्रेस के नेता शक्ति सिंह गोहिल को सौंप दिया है। कांग्रेस के महासचिव अशोक गहलोत ने आज ये बड़ी घोषणा की और शक्ति सिंह गोहिल को प्रदेश प्रभारी के पद पर नियुक्त करने का आदेश जारी किया। 
शक्ति सिंह गोहिल को कांग्रेस के कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष कौकब कादरी ने दी बधाई, बिहार के प्रभारी महासचिव बनाए जाने पर बधाई दी। प्रदेश प्रवक्ता एच के वर्मा, सरोज तिवारी ने भी दी बधाई। 
बता दें कि बिहार में महागठबंधन टूटने के बाद बिहार कांग्रेस में बवाल मचा था, अशोक चौधरी को प्रदेश अध्यक्ष पद से हटाकर कौकब कादरी को कार्यकारी प्रदेश अध्यक्ष बनाया गया था। उसके बाद ही कांग्रेस दो भागों में बंट गई थी। 
दो गुटों में बटी कांग्रेस के अशोक चौधरी धड़े ने सीपी जोशी पर आरोप लगाते हुए कहा था कि उनकी वजह से कांग्रेस में परेशानी चल रही है। उन्होंने तत्काल सीपी जोशी को उनके पद से हटाने की मांग की थी लेकिन सीपी जोशी अपने पद पर बने रहे और अशोक चौधरी गुट ने क्षुब्ध होकर जदयू का दामन थाम लिया। 
आज कांग्रेस ने सीपी जोशी को उनके पद से हटाकर शक्ति सिंह गोहिल को पदभार सौंप कर बड़ा फेरबदल किया है जिसे कांग्रेस की बिहार में आगे की रणनीति के रूप में देखा जा रहा है। 
कौन हैं शक्ति सिंह गोहिल 
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार अहमद पटेल को राज्यसभा चुनाव में जीत दिलाने के पीछे सबसे बड़ा हाथ गुजरात कांग्रेस के नेता शक्ति सिंह गोहिल का माना जाता है। शक्ति सिंह गोहिल ने ही अहमद पटेल को अमित शाह के चक्रव्यूह से निकाला था। गुजरात में शक्ति सिंह गोहिल कांग्रेस के प्रमुख चेहरों में से एक हैं। 
वकालत और पत्रकारिता की पढ़ाई कर चुके 57 साल के शक्ति सिंह गोहिल गुजरात सरकार में दो बार मंत्री रह चुके हैं और गुजरात विधानसभा में नेता विपक्ष भी रहे हैं। गोहिल गुजरात के एक प्रतिष्ठित राजघराने से ताल्लुक रखते हैं और राजनीति उन्हें विरासत में मिली है। गोहिल फिलहाल कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता भी हैं।