ऐसा क्या किया था कमला दास ने की गूगल ने बनाया उनका डूडल

ऐसा क्या किया था कमला दास ने की गूगल ने बनाया उनका डूडल

नई दिल्ली: Google आज मलयालम-इंग्लिश राइटर कमला दास की किताब 'My Story (मेरी कहानी)' को सेलिब्रेट कर रहा है. Google ने Celebrating Kamala Das शीर्षक से Doodle बनाया है और इस भारतीय लेखिका को सम्मान दिया है. कमला दास की किताब 'My Story' आज ही के दिन 1976 में रिलीज हुई थी. कमला दास ने महिलाओं की सेक्शुएलिटी और उनके लिए अपराध भावना से मुक्ति की सोच अपनी कविताओं में डाली, यही वजह है कि वह देश की सबसे महान लेखिकाओं में से एक बनकर उभरीं. 31 मार्च, 1934 को पुन्नयूरकुलम (केरल) में जन्मीं कमला ने महिलाओं के मुद्दे, बच्चों की देख-रेख, राजनीति समेत कई विषय पर लेख लिखे हैं. 75 वर्ष की उम्र में उनका निधन पुणे में 31 मई, 2009 को हुआ था. कमला दास को 1984 में साहित्य अकादेमी पुरस्कार से भी नवाजा गया था.