कोर्ट में नहीं पहुंचे तेजप्रताप-ऐश्वर्या, अगली सुनवाई पर हाजिर होने का आदेश

कोर्ट में नहीं पहुंचे तेजप्रताप-ऐश्वर्या, अगली सुनवाई पर हाजिर होने का आदेश

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजप्रताप यादव की ओर से पत्नी एश्वर्या राय से तलाक के लिए दिए गए आवेदन पर आज पटना के फैमिली कोर्ट में सुनवाई हुई। लेकिन इस सुनवाई के दौरान कोर्ट में न तेजप्रताप ही पहुंचे, न ऐश्‍वर्या ही हाजिर हुईं। दोनों की ओर से पक्ष रखने के लिए उनके वकील पहुंचे हुए थे। कोर्ट ने अगली सुनवाई 18 फरवरी को तेजप्रताप और ऐश्‍वर्या, दोनों को कोर्ट में उपस्थित रहने का आदेश दिया है। वहीं तेजप्रताप के वकील अमित खेमका ने ऐश्वर्या के वकील को कोर्ट के आदेश पर मुकदमे की कॉपी सौंपी। ऐश्वर्या के वकील ने कोर्ट को बताया कि अगली सुनवाई में इसका जवाब सौंपेंगे।

बता दें कि तेज प्रताप यादव ने नवंबर में कोर्ट में तलाक की अर्जी दाखिल की थी। इसके बाद परिवार ने उन्‍हें लगातार मनाने की कोशिश की, लेकिन वे नहीं माने। वहीं कोर्ट ने उनकी पत्नी ऐश्वर्या राय को नोटिस जारी कर सुनवाई में अपना पक्ष रखने के लिए कहा था। सुनवाई के दौरान तेजप्रताप के भी मौजूद रहने की बात थी। लेकिन गुरुवार को हुई सुनवाई में दोनों के नहीं पहुंचने पर कोर्ट ने अगली सुनवाई पर उन्‍हें हाजिर होने का आदेश दिया है।
गौरतलब है कि पिछले साल 2 नवंबर 2018 को तेजप्रताप ने शादी के पांच माह बाद ही ऐश्वर्या से तलाक लेने के लिए फैमिली कोर्ट में याचिका दायर की थी। यह याचिका 13 (1) (1ए) हिंदू मैरिज एक्ट के तहत दायर की गई थी। इसका केस नंबर 1208 है। मई में तेजप्रताप की शादी ऐश्वर्या राय से हुई थी। 
उधर तेजप्रताप यादव तलाक मामले में अपने फैसले पर पूरी तरह अडिग हैं। वे बार-बार कह रहे हैं कि मैं किसी भी कीमत पर अपनी पत्नी एेश्वर्या से तलाक का फैसला नहीं बदल सकता। मैं तलाक लेकर ही रहूंगा और मेरे इस फैसले को अब भगवान भी नहीं बदल सकते। उन्होंने कहा कि तलाक की अर्जी वापस नहीं लेंगे। 

खास बात कि दिसंबर में ही अचानक खबर उड़ी कि तेजप्रताप ने तलाक का फैसला बदल दिया है और वो अपनी अर्जी वापस लेंगे। मीडिया में यह बात आते ही तेजप्रताप ने इस पर कड़ा विरोध जताया और कहा कि वे अपने फैसले पर पूरी तरह अडिग है। उन्होंने साफ कहा कि कुछ लोगों की ओर से इसे लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है। इतना ही नहीं, बीते आठ जनवरी को सुनवाई के दिन निर्धारित समय पर कोर्ट में हाजिर भी हुए थे। 

बहरहाल यह मामला राजनीतिक गलियारों में भी चर्चा का केंद्र बना हुआ है। अभी तक इस मामले में एश्वर्या राय की ओर से किसी तरह का बयान नहीं आया है। लगभग तीन महीना होने को है, लेकिन ऐश्वर्या के परिवार की ओर से भी कोई बयान नहीं आया है।