हम विंग कमांडर की वापसी का इंतजार कर रहे हैं और पीएम प्रचार नहीं बंद कर रहे: कांग्रेस

हम विंग कमांडर की वापसी का इंतजार कर रहे हैं और पीएम प्रचार नहीं बंद कर रहे: कांग्रेस

भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संवाद कार्यक्रम को लेकर अरविंद केजरीवाल के बाद अब कांग्रेस ने भी गुरुवार को को उन पर निशाना साधा और आरोप लगाया कि जब देश वायुसेना के पायलट विंग कमांडर अभिनन्दन की वापसी के लिए व्याकुल है तो उस वक्त प्रधानमंत्री सत्ता में बने रहने के लिए व्याकुल हैं. दरअसल, पीएम नरेंद्र मोदी 28 फरवरी को दोपहर 12 बजे देश भर के एक करोड़ से अधिक बीजेपी कार्यकर्ताओं, वालंटियरों एवं अन्य विशिष्ट नागरिकों से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग के माध्यम से महासंवाद करेंगे. यह संवाद एक चर्चा के रूप में पार्टी के सभी 14,000 मंडलों, 896 जिलों एवं महानगरों पर आयोजित किया जा रहा है. बीजेपी का दावा है कि यह दुनिया की अब तक की सबसे बड़ी वीडियो कॉन्फ्रेंस होगी.

कांग्रेस ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट किया और लिखा- यह शर्मनाक है कि जब भारत विंग कमांडर की वापसी का इंतजार कर रहा है तो हमारे प्राइम टाइम पीएम कुछ मिनटों के लिए भी चुनाव प्रचार करना बंद नहीं कर सकते हैं. हम अपने सैनिकों के साथ खड़े हैं और मोदी सरकार से उनकी उदासीनता पर सवाल उठाते रहेंगे. 

वहीं, कांग्रेस पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर कहा, 'देश जाबांज़, विंग कमांडर अभिन्दन की अविलंब सुरक्षित वापसी को व्याकुल है और प्रधान सेवक सत्ता वापसी के लिए.'' उन्होंने कहा, 'कांग्रेस ने आज बृहस्पतिवार को होने वाली महत्वपूर्ण सीडब्ल्यूसी की बैठक व रैली को रद्द कर दिया। देश और सब दल सशस्त्र सेनाओं के साथ हैं, पर मोदीजी वीडियो कांफ्रेंसिंग का रिकॉर्ड बनाने को बेचैन हैं.'' 

गौरतलब है कि पाकिस्तान के लड़ाकू विमानों ने बुधवार को जम्मू-कश्मीर के पुंछ और नौशेरा सेक्टर में भारतीय हवाई क्षेत्र का उल्लंघन किया लेकिन भारतीय विमानों ने उन्हें खदेड़ दिया. पाकिस्तानी दुस्साहस का जवाब देने के दौरान उसके एक विमान को मार गिराया गया, लेकिन वायुसेना के विंग कमांडर पाकिस्तान की हिरासत में ले लिए गए. पाकिस्तान की कोशिशों को नाकाम करने के क्रम में हमारा एक मिग 21 भी दुर्घटनाग्रस्त हो गया. 

इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने बीजेपी के उस ट्वीट को रिट्वीट किया है, जिसमें इस कार्यक्रम की चर्चा है. अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि 'मैं पीएम से आग्रह करता हूं कि इस कार्यक्रम को स्थगित करें. इस समय एक राष्ट्र के रूप में हमें भारतीय वायुसेना के पायलट को सुरक्षित वापस लाने के लिए अपनी सभी ऊर्जा और समय खर्च करने की आवश्यकता है और व्यापक तौर पर पाकि्तान से निपटने की जरूरत है.' 

दरअसल, भारत ने पाकिस्तान के उस दावे की पुष्टि की है, जिसमें वह अपने कब्जे में एक भारतीय पायलट होने की बात कर रहा था. बुधवार की शाम विदेश मंत्रालय की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया कि हमारा एक पायलट पाकिस्तान की कस्टडी में है और हम पाकिस्तान से मांग करते हैं कि वह भारतीय वायुसेना के उस पायलट को तुरंत सुरक्षित वापस भेजें. भारत ने यह भी कहा कि पाकिस्तान यह सुनिश्चित करे कि सैनिक को कोई नुकसान नहीं पहुंचे. विदेश मंत्रालय ने कहा कि वह पाकिस्तान द्वारा भारतीय वायुसेना के घायल कर्मी को अंतरराष्ट्रीय नियमों का उल्लंघन कर अशोभनीय तरीके से दिखाए जाने की निंदा करता है.