जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में शनिवार को सुरक्षाबलों की कथित फायरिंग में तीन लोगों की मौत

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में शनिवार को सुरक्षाबलों की कथित फायरिंग में तीन लोगों की मौत

जम्मू-कश्मीर के कुलगाम में शनिवार को सुरक्षाबलों की कथित फायरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई. इसमें एक 16 साल की लड़की भी शामिल है. बताया जा रहा है कि कुलगाम के रेडवनी इलाके में सेना की पेट्रोल टुकड़ी पर प्रदर्शनकारियों ने हमला कर दिया और वे पत्थर फेंकने लगे. इस बीच बचाव में सुरक्षाबलों ने फायरिंग कर दी. जिसकी चपेट में आने के बाद तीन नागरिकों की मौत हो गई. रिपोर्ट्स के मुताबिक आतंकियों की तलाश के लिए इलाके में सर्च आपरेशन चलाया जा रहा है. सुरक्षाबलों की फायरिंग में जिन लोगों की मौत हुई है उनकी पहचान 22 वर्षीय शाकिर अहमद, 20 वर्षीय इरशाद माजिद और 16 वर्षीय अंदलीब के रूप में हुई है. सभी कुलगाम के हावुरा के रहने वाले हैं. दूसरी तरफ, झड़प में 10 प्रदर्शनकारियों के घायल होने की भी खबर है. समाचार एजेंसी आईएएनएस के मुताबिक इसमें से 2 लोगों को गोली भी लगी है. इन्हें अस्पताल ले जाया गया जहां एक की मौत हो गई. घटना के बाद से कुलगाम और अनंतनाग जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गई हैं. ताकि किसी भी तरह की अफवाह आदि फैलने से रोका जा सके.  

आपको बता दें कि एक दिन पहले ही जम्मू कश्मीर के पुंछ जिले के जंगल से सेना ने हथियारों और गोला- बारूद का एक बड़ा जखीरा बरामद किया था. सेना के एक अधिकारी ने शुक्रवार को बताया कि बरामद हथियारों में 11 आईईडी भी शामिल हैं. उन्होंने बताया कि यह बरामदगी गुरुवार रात की गई. अधिकारी ने कहा कि इंप्रोवाइज्ड एक्सप्लोसिव डिवाइस (आईईडी) के अलावा जंगल से जब्त सामान में पाकिस्तानी मुद्रा,दो एके राइफल , तीन पिस्टल , रॉकेट प्रोपेल्ड ग्रेनेड (आरपीजी) के तीन गोले और चीन निर्मित चार हथगोले शामिल हैं. उन्होंने कहा कि एक गोपीयन सूचना के बाद चलाए गए तलाशी अभियान के दौरान मेंढर सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास के जंगल से यह बरामदगी की गई. अधिकारी ने कहा कि ये हथियार सीमा पार से तस्करी कर यहां लाकर छुपाए गए थे जिससे बाद में आतंकवादी इनका इस्तेमाल कर सकें. उन्होंने कहा कि यह बरामदगी सुरक्षा बलों के लिये बड़ी सफलता है. अधिकारी ने बताया कि दो एके 56 राइफलों के साथ 26 मैगजीन और 1153 गोलियां थी जबकि तीन पिस्टलों के साथ दो मैगजीन और 63 गोलियां मिली हैं. इसके अलावा एक पीका मैगजीन भी मिली है जिसमें 46 गोलियां थीं। टिफिन बॉक्स में फिट किये गए 11 आईईडी और 20 डेटोनेटर भी हथियारों के इस जखीरे का हिस्सा थे.