झारखंड में गिरफ्तार हुआ विधायक का रिश्तेदार उग्रवादी कमांडर

झारखंड में गिरफ्तार हुआ विधायक का रिश्तेदार उग्रवादी कमांडर

पुलिस के लिए मंगलवार की रात काफी चुनौतीपूर्ण रही। चतरा, लातेहार व हजारीबाग में पुलिस को उग्रवादियों से चुनौती मिली, इसमें तीन उग्रवादी पकड़े गए। चतरा में पुलिस ने तृतीय सम्मेलन प्रस्तुति कमेटी (टीएसपीसी) के एरिया कमांडर नरेश गंझू को गिद्धौर थाना क्षेत्र के तिलैया गांव से एक रिवाल्वर, पिस्टल व गोलियों के साथ गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार एरिया कमांडर नरेश गंझू चतरा विधायक जयप्रकाश सिंह भोक्ता का नजदीकी रिश्तेदार है।

वहीं, हजारीबाग के उरीमारी से पुलिस ने सड़क निर्माण में लगी कंपनी से लेवी मांगने वाले दो तृतीय प्रस्तुति कमेटी (टीपीसी) सदस्यों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार राजेंद्र उरांव व दिवाकर गंझू रामगढ़ के देवगढ़ अवा के रहने वाले हैं। इधर, लातेहार के चंदवा थाना क्षेत्र के रेलवे क्रॉसिंग से सटे परसाही स्थित कोल साइडिंग में बीती रात पीएलएफआइ के हथियारबंद अपराधियों ने हवाई फाय¨रग कर दहशत फैला दी। उग्रवादियों ने साइडिंग में एक पर्चा छोड़कर काम बंद करने की चेतावनी दी है।

चतरा में उग्रवादी के गिरफ्तारी की जानकारी देते हुए एसपी अखिलेश बी ने बताया कि बुधन गंझू का पुत्र नरेश गंझू उर्फ सिटन गंझू संगठन में एरिया कमांडर है। हाल के दिनों में उसे बरकठ्ठा क्षेत्र का प्रभार दिया गया था, लेकिन वह वहां नहीं जा रहा था। इसी बीच, पुलिस अधीक्षक अखिलेश बी वारियर को इसकी गुप्त सूचना मिली। इस आधार पर गिद्धौर थाना पुलिस ने उसके पैतृक गांव में छापेमारी कर उसे गिरफ्तार कर लिया। बुधवार को अपर पुलिस अधीक्षक अभियान निगम प्रसाद एवं सिमरिया अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी प्रदीप पी कच्छप ने इसकी जानकारी पत्रकारों को दी। नरेश गंझू के खिलाफ चतरा एवं हजारीबाग जिले के विभिन्न थानों में दो मामले दर्ज हैं।

चंदवा थाना क्षेत्र के परसाही कोल साइडिंग में मंगलवार की रात झबुआ पावर के रैक की लो¨डग हो रही थी। इसी बीच कुछ पीएलएफआइ उग्रवादी वहां पहुंचे और पोकलेन ऑपरेटर को संगठन का पर्चा सौंपा। कहा कि बिना वार्ता किए काम हुआ तो अंजाम अच्छा नहीं होगा। जाने से पूर्व उग्रवादियों ने हवाई फायरिंग भी की। लगभग 10 महीने के बाद उग्रवादियों द्वारा साइडिंग में गोलीबारी व पर्चा छोड़ने की घटना हुई है।