ATM से पैसे चुराने का नया तरीका, Aadhaar Card से यूं चुराए जा रहे हैं हज़ारों

ATM से पैसे चुराने का नया तरीका, Aadhaar Card से यूं चुराए जा रहे हैं हज़ारों

ATM से पैसे चुराने का अब नया तरीका आ चुका है. इसके लिए ना आपके एटीएम कार्ड (ATM Card) चाहिए और ना ही कोई पासवर्ड, बल्कि आपके आधार कार्ड (Aadhaar Card) की बायोमैट्रिक (Bio metric) जानकारी ही काफी है. जी हां, आपने आधार कार्ड (Aadhaar Card) बनवाते हुए बायोमैट्रिक मशीन (Bio Metric machine) में अपने फिंगर प्रिंट (Fingerprint) दिए होंगे. इन्हीं फिंगर प्रिंट की मदद से आपका पैसा एटीएम (ATM) में चोरी हो रहा है. 

हरियाणा के जिंद में रहने वाले 40 साल के विक्रम के फोन पर एक मैसेज आया. उस मैसेज में लिखा था कि उनके फिंगरप्रिंट की मदद से दिल्ली के एक माइक्रो-एटीएम (Micro-ATM) से 1000 रुपये का निकाले गए हैं. इस घटना के एक हफ्ते बाद ही इसी तरह के माइक्रो-एटीएम (Micro-ATM) से 7500 रुपये निकाले गए. इस बार पैसे बिहार से निकले. 

आपको बता दें, माइक्रो-एटीएम (Micro-ATM) से पैसे निकालने के लिए पिन या पासवर्ड नहीं, बल्कि आधार/डेबिट कार्ड (Aadhaar/Debit Card)के साथ-साथ फिंगरप्रिंट की जरुरत पड़ती है. 

Micro ATM

जानिए आखिर ये हुआ कैसे?
टीओआई की एक रिपोर्ट के मुताबिक विक्रम लोगों के आधार कार्ड (Aadhaar Card) बनवाने का काम करता है. हैकर्स ने UIDAI सॉफ्टवेयर पर विक्रम की पर्सनल आईडी और पासवर्ड का इस्तेमाल कर लॉग-इन कर फेक कार्ड्स बनवाए. हैकर्स ने विक्रम की बायोमैट्रिक जानकारी के जरिए माइक्रो-एटीएम (Micro-ATM) से पैसे चुराए और बाकि सरकारी वेबसाइट्स पर भी लॉग-इन किया. हालांकि, अब विक्रम ने इस घटना की शिकायत की और अपनी बायोमैट्रिक्स को लॉक (Bio Metric Lock) करवाया. 

आप कैसे इससे बच सकते हैं?
अपनी बायोमैट्रिक जानकारी को लॉक करने के लिए (https://resident.uidai.gov.in/biometric-lock) पर जाएं. यहां अपना आधार कार्ड डालें और रजिस्टर नंबर पर आए ओटीपी (OTP) मिलेगा. इसे लॉक कर दें. इसके बाद आपके फिंगरप्रिंट को कोई भी माइक्रो-एटीएम (Micro-ATM) या कहीं भी इस्तेमाल नहीं कर पाएगा.