क्यूँ नीतीश कुमार ने कहा अब लालू यादव को नहीं करेंगे फोन !

क्यूँ नीतीश कुमार ने कहा अब लालू यादव को नहीं करेंगे फोन !

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अब अपने राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी लालू यादव का हाल चाल फ़ोन से नहीं लेंगे और उन्होंने सोमवार को घोषणा की कि वो अब अख़बारों में उनके हाल-चाल के बारे में पढ़ लेंगे. नीतीश ने अब फ़ोन नहीं करने के अपने निर्णय का बारे में कहा कि ऐसा मर्यादाहीन आचरण हुआ है जिससे लोगों की भावना को ठेस पहुंची है. नीतीश ने कहा कि उन्होंने एक बार नहीं बल्कि चार बार लालूजी का हाल लिया था. एक बार उनके राज्यसभा सांसद मनोज झा और दो बार विधायक भोला यादव से बात हुई थी. लेकिन जब इस संबंध में ख़बर आयी उसके बाद विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने जो बयान दिया वो काफ़ी ओछा था.

नीतीश ने कहा कि वो लालू जी के घर में शादी विवाह में जाते रहते हैं. लालू जी से राजनीतिक रूप से विरोध है लेकिन व्यक्तिगत रूप से क्या विरोध होगा? नीतीश ने कहा कि अगर किसी के बीमार पड़ने पर हाल-चाल लेने पर किसी को क्या आपत्ति हो सकती है. उन्‍होंने कहा कि किसी के साथ उनकी चिढ़ या दुश्मनी नहीं है और अगर पहले से ही व्यक्तिगत सम्बंध रहे हों तो कोई हाल-चाल क्‍यों नहीं लेगा.

तेजस्वी का नाम लिए बिना नीतीश ने कहा कि जैसा बयान दिया गया कि अगर कोई किसी से बातचीत करेगा और उसका ग़लत अर्थ लगाया जायेगा तो कोई किसी को अब फ़ोन नहीं करेगा. अगर ऐसा वातावरण लोग बनाएंगे तो लोग अपने पैर पर कल्‍हाड़ी मार रहे हैं.