राहुल गांधी का बीजेपी पर निशाना, कहा-भाजपा का काम लोगों को डराना

राहुल गांधी का बीजेपी पर निशाना, कहा-भाजपा का काम लोगों को डराना

नई दिल्ली: कांग्रेस के जनवेदना कार्यक्रम में राहुल गांधी ने एक बार फिर प्रधानमंत्री पर हमला बोला. राहुल गांधी ने पीएम मोदी से सीधा सवाल पूछा, “नरेंद्र मोदी जी बताएं कि नोटबंदी के बाद कितना कालाधन आया?” राहुल गांधी ने पेटीएम को ‘पे टू मोदी” का नाम दिया. राहुल गांधी दिन में दूसरी बार कांग्रेस के जनवेदना कार्यक्रम में बोल रहे थे.

राहुल ने कहा, ”यह विचारधारा की लड़ाई है. एक विचारधारा कहती है डरो मत, जो कि कांग्रेस कि विचारधारा है. दूसरी तरफ एक विचारधारा है जो कहती है डरो. बीजोपी की पॉलिसी पर नजर डालें तो सिर्फ डर ही डर दिखाई देता है. दो तीन महीने में बीजेपी ने पूरे देश में डर फैला दिया है. मीडिया में में डर फैला दिया है. मीडिया के लोग कहते हैं कि हम बोल नहीं सकते फोन आ जाएगा. मैं मीडिया के लोगों से भी कहता हूं कि डरो मत.”

राहुल गांधी ने अपने भाषण में पीएम मोदी की नकल करते हुए कहा, ”आठ नवबंर को पीएम मोदी ने दीवार फिल्म के अमिताभ बच्चन की तरह कहा कि मित्रों आपकी जेब में जो पांच सौ हजार के नोट हैं वो सिर्फ कागज हैं कागज.” राहुल ने कहा, ”बीजेपी सरकार में कोई कुछ नहीं करता जो भी कुछ भी करते हैं पीएम मोदी ही करते हैं. मंगलयान भी लगता है पीएम मोदी ने ही भेजा है उसमें इसरो के लोगों का कोई योगदान नहीं था. मंगलयान पर मोदी जी की फोटो भी लगा देनी चाहिए थी.”

राहुल ने कहा, ”नोटबंदी के दौरान जब पूरा देश आप और मैं बैंक की लाइन में खड़े थे तब जनार्दन रेड्डी ने अपनी बेटी की शादी में 500 करोड़ रुपये खर्च कर दिए. गडकरी जी ने भी अपनी बेटी की शादी की.”

राहुल गांधी ने कहा, ”मोदी जी की सरकार ने संवैधानिक संस्थाओं की ताकत कम की है. इस सरकार में आरबीआई की ताकत कम की गई. कभी- कभी कांग्रेस में भी होता है कि चुनाव के दौरान हम किसी स्थानीय कार्यकर्ता को टिकट ना देकर बाहर से कोई नेता लाकर बिठा देते हैं लेकिन कांग्रेस ने कभी आरबीआई जैसी संस्थाओं के साथ ऐसा नहीं किया.”

राहुल ने कहा, ”मीडिया में मेरे बारे में लिखा जाता है. मैं मीडिया के लोगों से कहूंगा कि मेरे बारे में जो लिखना है लिखो मैं आपको कभी नहीं डराऊंगा और आपका हक नहीं छीनूंगा.”

कांग्रेस के चुनाव चिन्ह पर राहुल गांधी ने कहा, ”हाथ के निशान का अर्थ होता है डरो मत, हम मानते हैं कि इस देश की जनता को किसी चीज से डरने की जरुरत नहीं है, ये देश जागरुक है. गुरु नानक, गुरू गोविंद सिंह, भगवान शिव सब की फोटो में हमें हाथ दिखता है. इसका मतलब है कि डरो मत.”

कांग्रेस के जनवेदना कार्यक्रम में नोटबंदी में मारे गए 120 से ज्यादा लोगों के लिए कांग्रेस के सम्मेलन में जुटे नेताओं ने मौन भी रखा, इस कार्यक्रम में पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम, पूर्व रक्षा मंत्री एके एंटनी समेत तमाम कांग्रेसी नेता मौजूद थे.