बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश मुखर करने हेतु रवाना होगा कैमल सफारी दल

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का संदेश मुखर करने हेतु रवाना होगा कैमल सफारी दल

राज्य सरकार बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ और महिला सशक्तिकरण का संदेश इस समय देश के हर तबके तक पहुंचाने में व्यस्त है. इसी के मद्देनजर सीमा सुरक्षा बल एवं वायु सेना के महिला अधिकारियों एवं जवानों का कैमल सफारी दल बाड़मेर जिला मुख्यालय से 15 अगस्त को वाघा बोर्डर के लिए रवाना होगा.सीमा सुरक्षा बल बाड़मेर सेक्टर मुख्यालय के उप महानिरीक्षक प्रतुल गौतम ने बताया कि आदर्श स्टेडियम से जिला स्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह के दौरान राजस्व राज्य मंत्री अमराराम चौधरी कैमल सफारी दल को हरी झंडी दिखाकर रवाना करेंगे. इस अवसर पर सीमा सुरक्षा बल गुजरात फ्रंटियर के महानिरीक्षक ए.के. तोमर समेत विभिन्न अधिकारी शामिल उपस्थित रहेंगे. उनके मुताबिक इस कैमल सफारी दल में सीमा सुरक्षा बल एवं वायुसेना की बीस महिला अधिकारी एवं जवान शामिल होंगी.इसमें सीमा सुरक्षा बल और वायुसेना के 11-11 जवान शामिल हैं. उनके मुताबिक यह कैमल सफारी 1368 किमी का सफर तय करके 49 दिन बाद 2 अक्टूबर को वाघा बॉर्डर पहुंचेगी. बीएसएफ के डीआईजी प्रतुल गौतम ने बताया कि बाड़मेर सेक्टर में यह कैमल सफारी दल बीकेडी, सोमराड़, गडरारोड़, केलनोर, मुनाबाव एवं सुंदरा होते हुए सात दिन के प्रवास पर रहेगा. उन्होंने बताया कि इस कैमल सफारी दल में सीमा सुरक्षा बल की पहली महिला अधिकारी तनुश्री पारीक भी शामिल होंगी.बाड़मेर जिला मुख्यालय पर इस बार पहली बार सीमा सुरक्षा बल के कमांडो का दल भी जिला स्तरीय परेड में शामिल हो रहा है. प्रेस कांफ्रेस के दौरान कमाडेंट सेक्टर मुख्यालय शाम कपूर, कमाडेंट सत्येन्द्रसिंह सहरावत, 151 वाहिनी के कमाडेंट पी.के. शर्मा, उप कमाडेंट मनोज कुमार एवं एन.के.तिवारी, लघु उद्योग भारती के कैलाश तिवारी उपस्थित रहे.