ट्विटर पर धमकी देने वाला युवक गिरफ्तार, अशोक गहलोत नहीं चाहते कोई कार्रवाई

ट्विटर पर धमकी देने वाला युवक गिरफ्तार, अशोक गहलोत नहीं चाहते कोई कार्रवाई

राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के राष्ट्रीय संगठन महासचिव अशोक गहलोत ने उस युवक के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं चाही है जिसने ट्विटर पर उनके घर पर हमले की धमकी दी थी. गहलोत ने धमकी देने वाले प्रभाकर पांडेय को माफ करते हुए ट्विटर पर उसके कॅरियर का हवाला देते हुए कोई खिलाफ नहीं चाहने की बात कही है. युवक प्रभाकर ने  गहलोत के घर हमला करने वाले को 10 लाख देने का ट्वीट किया था, जिसके बाद जयपुर पुलिस उत्तर प्रदेश के करनपुर गौरखपुर देहात से उसे पकड़ कर जयपुर ले आई थी.

जयपुर पुलिस के अनुसार 10 अप्रैल को भारत बंद को लेकर अशोक गहलोत  ने ट्विटर पर शांति और सौहार्द बनाए रखने की अपील की थी. इसके बाद आरक्षण व्यवस्था से नाराज यूपी के प्रभाकर पांडे ने गहलोत के घर पर हमला करने की धमकी ट्विटर पर दे डाली.  इसमें गहलोत के घर पर हमला करने वाले को दस लाख रुपए देने की घोषणा की गई. इस संबंध में कांग्रेस नेता लोकेश शर्मा ने जयपुर पुलिस कमिश्नर से शिकायत की जिसके बाद प्रभाकर को गिरफ्तार कर लिया गया..

इस ट्वीट के बाद अशोक गहलोत ने एक और ट्वीट कर देश के युवाओं से सोशल मीडिया का इस्तेमाल समाज की भलाई और सकारात्मकता से करने की अपील की. उन्होंने कहा सोशल मीडिया पर उन्हें जरूरतमंदों, वंचितों और व्यवस्था में जो बदलाव चाहते हैं उसके लिए आवाज उठानी चाहिए.