संसद के शीत सत्र में हुआ हंगामा, कांग्रेस ने कहा पूर्व प्रधानमंत्री पर लगाए आरोपो पर प्रधानमंत्री मोदी माँगे माफ़ी

संसद के शीत सत्र में हुआ हंगामा, कांग्रेस ने कहा पूर्व प्रधानमंत्री पर लगाए आरोपो पर प्रधानमंत्री मोदी माँगे माफ़ी

नई दिल्ली: संसद के शीत सत्र में सदन की कार्रवाई शुरू होते ही राज्यसभा में पहले शरद यादव और अली अनवर की सदस्यता का मुद्दा गर्माया. इसके बाद नेता विपक्ष गुलाम नबी आजाद ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर गुजरात चुनाव के दौरान पीएम मोदी के लगाए आरोपों पर भी स्पष्टीकरण मांगा. आजाद ने कहा कि इस मसले पर प्रधानमंत्री को सदन में अपना रूख साफ करना चाहिए, जिसके बाद सदन में खूब हंगामा हुआ और कार्यवाही 2.30 बजे तक स्थगित कर दी गई.

उन्‍होंने कहा कि मनमोहन सिंह पर पाकिस्‍तान के साथ षड़यंत्र रचने का जो आरोप लगाया है उसका सबूत दें या फिर संसद और देश से माफी मांगे. वहीं शिवसेना ने भी प्रधानमंत्री से मनमोहन सिंह पर लगाए गए आरोपों पर सफाई मांगी हैं. 

इससे पहले विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद के नेतृत्व में विपक्षी पार्टियों द्वारा जनता दल यूनाइटेड (जदयू) नेता शरद यादव को निलंबित करने के मुद्दे पर काफी हंगामा किया गया, जिसके चलते उच्च सदन की कार्यवाही संक्षिप्त समय के लिए स्थगित कर दी गई. हालांकि, इसके तुरंत बाद प्रश्नकाल के लिए कार्यवाही जैसे ही फिर शुरू हुई, आजाद और अन्य विपक्षी नेताओं ने मोदी द्वारा पाकिस्तानी अधिकारियों से मुलाकात को लेकर पूर्व मनमोहन सिंह को निशाना बनाए जाने के खिलाफ हंगामा किया.

मोदी ने दावा किया था कि कांग्रेस नेता मणिशंकर अय्यर के घर पर हुई एक बैठक के दौरान, जिसमें मनमोहन सिंह भी शामिल थे, गुजरात चुनावों को लेकर भारत में कार्यरत पाकिस्तान के उच्चायुक्त और पूर्व पाकिस्तानी विदेश मंत्री खुर्शीद कसूरी से चर्चा की गई थी.