अखिलेश से दो-दो हाथ के मूड में मुलायम, बोले- मैं अब भी सपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष

अखिलेश से दो-दो हाथ के मूड में मुलायम, बोले- मैं अब भी सपा का राष्ट्रीय अध्यक्ष

मुलायम सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी के झगड़े के बारे में कहा है कि रामगोपाल यादव की ओर से बुलाया गया विशेष अधिवेशन फर्जी है। पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष वे ही हैं। दिल्‍ली में प्रेस कांफ्रेंस में उन्‍होंने कहा, ”रामगोपाल को अधिवेशन बुलाने का कोई अधिकार नहीं। वह पार्टी से छह साल के लिए बर्खास्‍त थे। वे अधिवेशन नहीं बुला सकते थे। पार्टी का राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष मैं ही हूं। शिवपाल यादव राज्‍य अध्‍यक्ष हैं। अखिलेश यादव मुख्‍यमंत्री हैं। विरोधी गुट की ओर से जो किया जा रहा है, वह वैधानिक नहीं हैं।” मुलायम के बयान से साफ हो गया कि वे पीछे नहीं हटें हैं। साथ ही उनके रुख में भी किसी तरह की नरमी नहीं आई है। सूत्रों का कहना है कि मुलायम सिंह चुनाव आयोग से रामगोपाल यादव की ओर से दिए गए दस्‍तावेजों की वैधानिकता की जांच के लिए कह सकते हैं।
दिन में मुलायम ने दिल्‍ली में समर्थकों से कहा था, ”अखिलेश मेरा ही लड़का है। अब हम क्‍या करें। जो वह कर रहा है उसे करने दो। मार थोड़ी देंगे उसे। सब कुछ उसके पास है मेरे पास क्‍या हैं। मेरे पास तो गिनती के विधायक हैं।” इससे संकेत गया था कि उनका रुख नरम पड़ रहा है। साथ ही वे साइकिल पर दावेदारी को भी छोड़ सकते हैं। हालांकि उन्‍होंने सपा में झगड़े के सवाल को खारिज करते हुए कहा कि पार्टी में ऐसा कुछ नहीं है इसलिए समझौते का सवाल ही नहीं है।