सांसदों की गिरफ्तारी पर ममता बोलीं, देश को मोदी से बचाओ; आडवाणी चलाएं सरकार

सांसदों की गिरफ्तारी पर ममता बोलीं, देश को मोदी से बचाओ; आडवाणी चलाएं सरकार

कोलकाता. नोटबंदी के फैसले और चिटफंड घोटाले में अपने सांसदों की गिरफ्तार के बाद ममता बनर्जी ने कहा कि देश को मोदी से बचाओ। शुक्रवार को ममता बोलीं, 'मोदी को इस्तीफा दे देना चाहिए और लालकृष्ण आडवाणी राष्ट्रीय सरकार को लीड करें।' ममता ने प्रेसिडेंट प्रणब मुखर्जी से हस्तक्षेप की मांग करते हुए कहा कि मोदी से देश को बचाओ। मतभेद भुलाकर साथ आएं विपक्षी पार्टियां- ममता...

- ममता बनर्जी ने कहा, 'देश के बचाने के लिए इस वक्त सभी विपक्षी पार्टियों को एक हो जाना चाहिए।'
- 'मोदी देश का नेतृत्व नहीं कर सकते हैं। उन्हें पद छोड़ देना चाहिए।'
- 'देश में राष्ट्रीय सरकार होनी चाहिए जिसका नेतृत्व लालकृष्ण आडवाणी, राजनाथ सिंह या फिर अरुण जेटली करें।'

ऐसी बदला लेने वाली सरकार नहीं देखी- ममता
- ममता ने प्रणब मुखर्जी के उस बयान की तारीफ की जिसमें उन्होंने कहा था कि नोटबंदी देश की इकोनॉमी को टेम्परेरी स्लोडाउन की ओर ले जा सकती है।
- ममता ने कहा, 'मैंने ऐसी बदला लेने वाले केंद्र में कभी नहीं देखे। ये पुराने संस्थान जैसे प्लानिंग कमीशन को तोड़ रही है। ये सरकार की रीढ़ को तोड़ रहे हैं।'
- 'पश्चिम बंगाल को नोटबंदी के फैसले के चलते 5,500 करोड़ रुपए का नुकसान हुआ और 81.50 लाख लोग बेरोजगार हो गए। केंद्र सरकार विपक्षियों को भय दिखा रही है।'

बीजेपी को दी चुनौती
- ममता बनर्जी ने बीजेपी को चुनौती देते हुए कहा कि मैं उनकी पार्टी की सरकार वाले झारखंड में जाऊंगी। अगर हिम्मत हो तो छूकर दिखाओ। 
- ममता ने कहा, 'मेरे दो मंत्री और पार्टी लीडर झारखंड गए, जहां उन्होंने आदिवासियों से बात की। उन्होंने बताया कि राज्य सरकार ने जबरदस्ती उनकी जमीन ले ली।'
- ममता बोलीं, 'मेरे मंत्रियों ने मुझे वापस लौटकर रिपोर्ट सौंपी है और अब मैं झारखंड जाऊंगी।'
- 'बीजेपी ने कहा था कि अगर मैं बीजेपी शासित राज्यों में जाऊंगी तो वो मुझे पीटेंगे। मैं देखना चाहती हूं कि वो मुझे छू भी पाते हैं या नहीं।'

विजयवर्गीय ने दी थी चुनौती
- ममता का बयान बीजेपी जनरल सेक्रेटरी कैलाश विजयवर्गीय के बयान पर आया है।
- कैलाश विजयवर्गीय ने कहा था कि अपने रास्ते सुधार लो, वरना परिणाम भुगतने पड़ेंगे।
- विजयवर्गीय ने कहा था कि अगर उनकी पार्टी ने ऐसा करना शुरू कर दिया तो ममता और उनके नेता देश में और दिल्ली में कहां जा पाएंगे।
- बता दें कि सांसद सुदीप बंधोपाध्याय की चिटफंड घोटाला केस में गिरफ्तारी के बाद टीएमसी नेताओं और वर्कर्स ने कोलकाता में बीजेपी ऑफिस पर हमला कर दिया था।