भारतीय यूजर्स को WHATSAPP का ‘झटका’, खत्म होगा ये फीचर, मैसेज की लिमिट भी तय

भारतीय यूजर्स को WHATSAPP का ‘झटका’, खत्म होगा ये फीचर, मैसेज की लिमिट भी तय

फेक न्यूज पर लगाम लगाने की कड़ी में वॉट्सऐप ने भारतीय यूजर्स को तगड़ा झटका दिया है. वॉट्सऐप ने चैट की लिमिट तय कर दी है. साथ ही एक फीचर को भी हटा दिया है. वॉट्सऐप ने सिर्फ भारतीय यूजर्स के लिए मैसेज भेजने की लिमिट तय कर दी है. सरकार के नोटिस के बाद वॉट्सऐप यह कदम उठाया है. कंपनी के मुताबिक, अब भारतीय यूजर्स क्विक फॉरवर्ड बटन का भी इस्तेमाल नहीं कर पाएंगे. क्विक फॉरवर्ड बटन का ऑप्शन मीडिया मैसेज के बाद आता है. वॉट्सऐप ने इस फीचर में बदलाव सिर्फ भारतीय यूजर्स के लिए किया है. 

ज्यादा फॉरवर्ड करते हैं भारतीय
वॉट्सऐप की नई गाइडलाइंस के मुताबिक, भारतीय यूजर्स दूसरे देशों की तुलना में ज्यादा मैसेज फॉरवर्ड करते हैं. इनमें वीडियो और फोटोज भी शामिल हैं. आपको बता दें, वॉट्सऐप के भारत में करीब 20 करोड़ यूजर्स हैं. पिछले दिनों वॉट्सऐप ने गाइडलाइंस जारी की थीं. लेकिन, फेक न्यूज पर रोक पर लगाम लगाने के लिए भारत सरकार ने एक और नोटिस जारी किया. बता दें, फेक न्यूज के वॉट्सऐप से फैलने के बाद देश में कई जगह मॉब लिंचिंग की खबरें सामने आई थीं.

 

 

सरकार के नोटिस के बाद वॉट्सऐप का एक्शन
शुक्रवार को जारी एक बयान में वॉट्सऐप ने कहा है कि वह फॉरवर्डिंग की लिमिट की टेस्टिंग कर रहे हैं. हम जल्द ही इसके लिए और कुछ करेंगे. फिलहाल 5 लोगों से ज्यादा मैसेज नहीं भेजने तक सीमित किया गया है. इसके लिए क्विक फॉरवर्ड बटन को हटाया गया है. आपको बता दें, वॉट्सऐप ने कुछ साल पहले ही मल्टीपल चैट्स के लिए यूजर्स के लिए यह फीचर दिया था.

 

सरकार ने भेजा दूसरा नोटिस
सरकार ने गुरूवार को वॉट्सऐप को एक और नोटिस भेजा है. नोटिस में सरकार ने चेतावनी दी है कि अफवाहों के प्रसार में माध्यम बनने वाले भी दोषी माने जाएंगे और उपाय न करने पर उन्हें भी कानूनी कार्रवाई का सामना करना पड़ेगा. सरकार ने देश में मॉब लिचिंग की घटनाओं के बाद यह नोटिस भेजा है. इससे पहले भी सरकार लगातार वॉट्सऐप और फेसबुक से फेक न्यूज रोकने के लिए कहती रही है. 

 

मैसेज के ऊपर ऐसे लिखा दिखेगा, पता चलेगा ये फॉरवर्डड मैसेज है या नहीं.

 

मैसेज फारवर्ड पर पहले तय की थी गाइडलाइंस
वॉट्सऐप ने कुछ दिन पहले ही ऐलान किया था कि वह एक नए फीचर को शुरू कर रहे हैं, जि‍सकी बदौलत आप ये जान सकते हैं कि कौन सा मैसेज फारवर्ड होकर आया है. अगर आप संदेश में कुछ ऐसा पढ़ते हैं, जि‍ससे आपको गुस्‍सा आता है या डर लगता है तो यह जानने की कोशि‍श करें कि क्‍या उस संदेश का मकसद ही आपमें ऐसी भावनाएं जगाना था या नहीं और अगर जवाब 'हां' हैं तो आप उसे अन्‍य लोगों को ना भेजें.

एडिट किया जाता है फोटो और वीडियो
वॉट्सऐप ने अपनी गाइडलाइन में फोटो और वीडि‍यो के एडिट होने की संभावना जाहिर की थी. वॉट्सऐप के मुताबिक, इन पर आसानी से यकीन कि‍या जाता है, लेकि‍न भ्रमि‍त करने के लि‍ए इन्हें एडि‍ट कि‍या जाता है. इसलि‍ए खुद से जांचने के बाद ही उसे आगे फॉरवर्ड करें.