IRCTC से टिकट बुक करते समय महज 68 पैसे में लें ट्रैवल इंश्योरेंस

IRCTC से टिकट बुक करते समय महज 68 पैसे में लें ट्रैवल इंश्योरेंस

IRCTC से टिकट बुक करते समय अधिकांश लोग ट्रैवल इंश्योरेंस खरीदना जरूरी नहीं समझते। लेकिन आपको बता दें कि हमें इंश्योरेंस कवर खरीदना चाहिए वो भी तब जब रेल दुर्घटना या आकस्मिक स्थिति के लिए 10 लाख रुपये का बीमा मिलता है। आपको जानकर हैरानी होगी कि इसके लिए दिया जाने वाला प्रीमियम महज 68 पैसे है।

आपने कभी ध्यान दिया हो तो बात दें कि इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) अबतक फ्री में और अनिवार्य रूप से ट्रैवल इंश्योरेंस दिया करती थी। यह मोबाइल ऐप या वेबसाइट से टिकट बुक करने पर मिलता था। लेकिन अब यह नियम बदल गया है।

बीते एक सितंबर, 2018 से IRCTC ने ट्रैवल इंश्योरेंस के नियमों में बदलाव कर दिया है। अब यह फ्री और अनिवार्य नहीं रहा है। IRCTC की वेबसाइट पर ट्रेन की टिकट बुक करते समय आपको ट्रैवल इंश्योरंस का ऑप्शन दिखेगा। यहां से आप चुनाव कर सकते हैं कि इंश्योरेंस लेना है या नहीं। नियम बदलने के बाद भी इसके प्रीमियम नाम मात्र 68 पैसे है।

IRCTC ट्रैवल इंश्योरेंस के फायदे

ट्रैवल इंश्योरेंस के तहत ट्रेन दुर्घटना में मृत्यु और स्थायी पूर्ण अशक्तता की स्थिति में 10 लाख रुपये तक का बीमा मिलता है। आंशिक अशक्तता की स्थिति में 7.5 लाख रुपये का बीमा मिलता है। वहीं जख्मी होने की सूरत में अस्पताल के खर्चे के लिए 2 लाख रुपये तक का कवरेज मिलता है। इसके तहत ट्रेन यात्रा के दौरान दुर्घटना, डकैती या अन्य हिंसक घटना भी शामिल है।

IRCTC ट्रैवल इंश्योरेंस की योग्यता

कोई भी यात्री जो IRCTC की वेबसाइट या ऐप के माध्यम ई-टिकट बुक करता वह इस ट्रैवल इंश्योरेंस को खरीद सकता है। IRCTC से फ्लाइट टिकट बुकिंग वेबसाइट्स भी ट्रैवल इंश्योरेंस ऑफर करती हैं लकिन वह काफी महंगा होता है। हालांकि, पांच वर्ष की कम आयु के बच्चों के लिए कोई बीमा नहीं है। साथ ही यह केवल भारत के नागरिकों के लिए वैध है।

इस तरह मिलेगा इंश्योरेंस क्लेम

IRCTC ने तीन बीमा कंपनियों के साथ करार किया है- रॉयल सुंदरम जनरल इंश्योरेंस कॉरपोरेशन लिमिटेड, श्रीराम जनरल इंश्योरेंस कंपनी और ICICI लॉम्बार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी लिमिटेड। बता दें कि यात्री इंश्योरेंस पॉलिसी IRCTC से नहीं बल्कि इन तीन कंपनियों से लेते हैं। इसलिए सभी क्लेम इन बीमा कंपनियों द्वारा ही भुगतान किया जाता है।