रेलवे अब एसी कोच में कंबल उपलब्ध नहीं कराएगाः खबर

रेलवे अब एसी कोच में कंबल उपलब्ध नहीं कराएगाः खबर

यात्रियों को गंदे कंबल दिए जाने के लिए पहले से आलोचना झेल रही भारतीय रेलवे अब कई ट्रेनों के ऐसी कोच में इस सुविधा को बंद करने पर विचार कर रही है। हाल ही में संसद के अंदर सीएजी की रिपोर्ट के बाद ट्रेनों और स्टेशनों की साफ- सफाई, खान-पान को लेकर रेलवे की काफी आलोचना हुई थी। साथ ही सुपरफास्ट ट्रेनों के देर से चलने की भी बातें सामने आई थी।

रेलवे के एक अधिकारी के मुताबिक, ट्रायल के तौर पर रेलवे एसी कोचों के तापमान को 19 डिग्री सेल्शियस से बढ़ाकर 24 डिग्री सेल्शियस करने जा रही है, ताकि कोच के अंदर यात्रियों को बिना कंबल के ठंड न लगे।

शिकायतों को देखते रेलवे ने लिया फैसला
आपको बता दें कि हाल ही में सीएजी की रिपोर्ट और कंबल की सफाई को लेकर शिकायतों को देखते हुए रेलवे की कंबल को लेकर कुछ कदम उठाने की संभावना पहले ही बन रही थी. सीएजी की रिपोर्ट के अनुसार कई जगह ट्रेन में मिलने वाले कंबलों को 3 साल तक नहीं धोया गया है। रेलवे की मौजूदा व्यवस्था में ट्रेन में एसी कोच में सफर करने पर आपको तकिया, बेडशीट और कंबल मिलता है।

रेलवे के पास 2 और विकल्प सामने थे। पहला कि कंबल में कवर लगाया जाए और बाद में कवर की धुलाई निरंतर समय पर हो. दूसरा विकल्प था कि मौजूदा कंबल की लंबाई-चौडाई को कम किया जाए, अभी मिलने वाले कंबल की लंबाई-चौडाई जरुरत से ज्यादा है, लिहाजा रेलवे को एक कंबल की धुलाई में 55 रुपये का खर्च आता है। पिछले काफी समय से रेल मंत्री सुरेश प्रभु ट्रेन सफर का अंदाज बदलने के लिए लगातार नए ऐलान कर रहा है. रेलवे नई ट्रेनों के साथ-साथ रेलवे की दूसरी सुविधाओं से जुड़े बड़े ऐलान कर रहा है।