मोदी के ‘विजन फॉर न्यू इंडिया’ से पैदा होंगी अमेरिका में नौकरियां

मोदी के ‘विजन फॉर न्यू इंडिया’ से पैदा होंगी अमेरिका में नौकरियां

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 26 जून को व्हाइट हाउस की यात्रा की घोषणा करते हुए राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रेस सचिव शॉन स्पाइसर ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के 'विजन फॉर न्यू इंडिया' से अमेरिका में नौकरियां पैदा होंगी. स्पाइसर ने सोमवार को कहा था कि अमेरिकी ऊर्जा, प्रौद्योगिकियां और प्राकृतिक गैस मोदी के नए भारत के निर्माण करने में मदद कर रही हैं, जिससे हजारों अमेरिकी नौकरियों का निर्माण होगा.

अमेरिका और भारत के बीच का व्यापार 2000 के बाद से छह गुना बढ़कर 19 अरब डॉलर से 115 अरब डॉलर हो गया है और भविष्य की संभावानाओं पर बोलते हुए स्पाइसर ने कहा कि भारतीय अर्थव्यवस्था 7% से अधिक बढ़ रही है.

 

अप्रैल में ट्रंप ने उन देशों के साथ व्यापार की समीक्षा का आदेश दिया, जिनके साथ अमेरिका एक घाटे को चलाता है और भारत इस सूची में शामिल है, हालांकि भारत पर चीन की 347 अरब डॉलर की तुलना में 24 बिलियन अमरीकी डॉलर का घाटा है.

स्पाइसर  ने कहा कि इस यात्रा के दौरान दोनों नेताओं अमेरिका-भारत भागीदारी के लिए एक समान दृष्टि की रूपरेखा तैयार करेंगे , जिससे 1.6 अरब लोगों का हित जुड़ा हुआ है. प्रेस सचिव ने कहा कि राष्ट्रपति संयुक्त राज्य अमेरिका और भारत के बीच संबंधों को मजबूत करने और अपनी प्राथमिक हितों को आगे बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा करने की उम्मीद करते हैं, जिसमें आतंकवाद से लड़ना, आर्थिक विकास और सुधारों को बढ़ावा देना जैसे विषय शामिल है.