अब नो मोर मिसाइल परीक्षण- उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन

अब नो मोर मिसाइल परीक्षण- उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने शनिवार को अपनी घोषणा में कहा कि वह परमाणु परीक्षण और अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षणों पर रोक लगाएंगे। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने दोनों नेताओं की अपेक्षित शिखर वार्ता से पहले इस घोषणा का स्वागत किया है। उत्तर कोरिया के इस कदम को कोरियाई प्रायद्वीप और इसके इर्द-गिर्द घूम रही कूटनीति के संदर्भ में एक महत्वपूर्ण कदम माना जा रहा है। अमेरिका लंबे समय से ऐसा चाह रहा था। प्रायद्वीप को विभाजित करने वाले ‘असैन्यीकृत क्षेत्र’ में दक्षिण कोरियाई राष्ट्रपति मून जेई-इन के साथ जोंग उन की प्रस्तावित मुलाकात से एक सप्ताह से भी कम समय पहले यह घोषणा अत्यंत अहम मानी जा रही है।

जोंग उन अमेरिकी राष्ट्रपति ट्रंप के साथ मई या जून माह में मुलाकात कर सकते हैं। बहरहाल, जोंग उन ने ऐसा कोई संकेत नहीं दिया है कि उत्तर कोरिया अपने परमाणु हथियार या मिसाइलें छोड़ सकता है। किम ने कहा कि उत्तर कोरिया ने मिसाइलों पर लगाने के लिए सफलतापूर्वक अपने आयुध विकसित किये थे। उन्होंने कहा कि इसलिए अब डीपीआरके के लिए कोई परमाणु परीक्षण और अंतरमहाद्वीपीय बैलिस्टिक रॉकेट प्रक्षेपण जरूरी नहीं है।